You are here
राजनीति 

धार्मिक गुंडागर्दी: अब सड़क छोड़िये ट्रेनों को भी रोककर पढ़ी जा रही है नमाज

नई दिल्ली: भारत में धार्मिक स्वतंत्रता है लेकिन उसका मतलब ये नहीं की उसका नाजायज फायदा उठाकर दूसरे धर्म के लोगों को परेशां किया जाये ।

दिल्ली की अच्छन मियां मस्जिद के पास कुछ ऐसा ही वाकया देखने को मिला । जहाँ अलविदा की नमाज के मौके पर मुसलमानो ने नमाज के लिये एक ट्रेन को रुकवा दिया जिससे कई यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा ।

मुसलमान आज भारत में धार्मिक स्वतंत्रता का फायदा इस कदर उठा रहा है की वो आज कहीं किसी भी जगह पर अपनी धार्मिक कट्टरता दूसरे को दिखाने और परेशान करने के लिये मजबूर करता है ।

इसे मजहबी गुंडागर्दी नहीं कहेंगे तो क्या कहेंगे । वो दिन दूर नहीं जब ये हिंदुओं के घर में भी नमाज पढ़ने की जगह ढूंढेंगे ।

हिन्दू समाज को सतर्क रहने की जरुरत है ।

Comments

comments

Related posts