You are here
राजनीति 

यूपी के शिक्षामित्र ने कहा- नौकरी गई तो हिन्दू धर्म छोड़ इस्‍लाम कबूल कर लेंगे

लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से यूपी में नाराज शिक्षा मित्रों का एक चौकाने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में शिक्षा मित्र मीडिया से बातचीत करने के दौरान हिन्दू धर्म त्याग इस्लाम अपनाने की धमकी दे रहे है।

वीडियो में एक शिक्षा मित्र का कहना है कि, गांव हमारे हैं, बच्चे हमारे हैं। हम उन्हें आराम से पढ़ा रहे थे। लेकिन अब सरकार ने कह दिया हम नहीं पढ़ा सकते हैं। हम अयोग्य हैं। जबकि हम पिछले पंद्रह साल यहां पढ़ा रहे हैं तब हम अयोग्य नहीं हुए। तब हमें तीन हजार सैलरी मिल रही थी। आज हमें 35 हजार मिल रहे हैं तो हम अयोग्य साबित हो गए। इस दौरान शख्स ने आरोप लगाया कि जिन्होंने हमें निकाला है उनके रिश्तेदार घर बैठे हुए हैं। और वही फर्जी पढ़ाई कर योग्य हो गए हैं। इसीलिए उनके लिए जगह खाली कर हमें निष्कासित कर दिया गया।

अगर ये हिन्दू धर्म होने की सजा है या शहरी लोगों के कारण हमारी नौकरी छीन ली गई है। हमें हटाकर बीए, बीएड, बीटीसी वालों को लगाया गया है। तो हम इसकी घोर निंदा करते है और इस फैसले का कोई सम्मान नहीं करते है। हम सारे शिक्षा मित्र और हमारे परिवार जल्द इस्लाम कबूल करेंगे।

आगे कहा कि, हम मौलवी साहब से बात करेंगे और इस्लाम कबूल करेंगे। फिर हम ‘अल्लाह हु अकबर’ बोलेंगे। हिन्दू धर्म पर निशाना साधते हुए कहा कि हमें ऐसे धर्म में नही रहना जहां हमारी रोजी रोटी छीनी जाए, बच्चों को भूखा मारा जाए।

यह वीडियो वायरल होने के बाद लोग शिक्षामित्रों की जमकर आलोचना कर रहे है और गुस्सा निकाल रहे है। आशीष लिखते हैं, ‘ऐसा करने से क्या आपको नौकरी मिल जाएगी। इनके चक्कर में पढ़े लिखे शिक्षामित्र भी अपनी नौकरी से हाथ धो बैठेंगे।’ विजय तिवारी लिखते हैं, ‘हमारा हिंदुस्तान ऐसे लोगों की वजह से ही खोखला होता जा रहा है। ऐसे लोगों को पाकिस्तान ही भेज देनाचाहिए। वहीं इस्लाम कबूल करें।’ अनुराग तिवारी लिखते हैं, ‘ऐसे मौका परस्तों का तो बहिष्कार हो जाना चाहिए। ये इस्लाम कबूल करके उस धर्म का क्या भला करेंगे।’ सुर्याकांत लिखते हैं, ‘और जो मुस्लिम हैं वो???’

आपको बता दे कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा समायोजन रद्द होने के बाद शिक्षामित्रों ने आंदोलन का बिगुल फूंका। प्रदेश के कई जिलों में शिक्षामित्रों ने सरकारी संपत्ति से तोड़ फोड़ की है। प्रदेश में हर जगह शिक्षा मित्रों की भीड़ हिंसक होने लगी है। रोडवेज और भाजपा का झंड़ा लगी गाड़ियों को उन्होंने निशाना बनाया है।

Comments

comments

Related posts